Homeकिसान न्यूज़beej gram yojana : किसान अपने गांव में बीज बैंक बनाकर कमाएं...

beej gram yojana : किसान अपने गांव में बीज बैंक बनाकर कमाएं लाखों रु. जानिए कैसे

फसल का उत्पादन बढ़ाने के लिए बीज का महत्वपूर्ण योगदान होता है, पर इसके लिए गुणवत्तापूर्ण बीज का होना जरूरी है। इससे उत्पादन बढ़यिा होगा और किसानों की कमाई भी अच्छी होगी। किसान बीज तैयार कर लाखों रूपये कमा सकते है। इस से किसान अपनी उपज के अच्छे दाम मिलते है। earn money with beej gram yojana.

क्या है बीज ग्राम योजना beej gram yojana –

बीज ग्राम योजना beej gram yojana के तहत गांव दो से तीन गांवों के किसानों को मिलाकर एक समूह तैयार किया जाता है। इस समूह में 50 से 100 किसान होते हैं। दो से तीन समूह बनाये जाते हैं। इस योजना के तहत किसानों को बीज बुवाई से कटाई तक आरएसएससी द्वारा प्रशिक्षण दिया जाता है। वर्ष 2014-15 में देश में बीज ग्राम योजना की शुरुआत की गयी। ताकि किसानों को कृषि उत्पादन के लिए प्रमाणिक बीज उपल्बध कराया जा सके। झारखंड में भी beej gram yojana की शुरुआत हुई। beej gram yojana earn money seed production .

कृषि विज्ञान केंद्र को यह जिम्मा सौंपा गया। झारखंड की बात करें तो रांची जिले के गुड़गुड़ जाड़ी गांव को भी बीज ग्राम के तौर पर चयन किया गया था। वर्ष 2013 में तीन समूह बनाये गये थे। तब से लेकर आज तक यहां पर मुख्य रूप से धान का बीज का उत्पादन होता है.

यह भी पढ़ें – best agriculture insurance company in india

कैसे काम करता है beej gram yojana –

बीज ग्राम योजना beej gram yojana में जिले के कृषि विज्ञान केंद्रों में विकसित की गयी धान या अन्य फसल के बीज को पहले विज्ञान केंद्र में ही लगाया जाता है। जिसे ब्रीडर बीज कहा जाता है। फिर दूसरे साल ब्रीडर बीज से जो फसल तैयार होती है उसके बीज को फाउंडेशन बीज कहा जाता है। फाउंडेशन बीज किसानों को दिया जाता है। जिसे किसान अपने खेत में लगाते हैं। इसके एक साल बाद किसानों के खेत से जो बीज तैयार होता है। उसे सर्टिफाइड (प्रमाणिक) बीज कहा जाता है।

किसानों को कैसे होगा फायदा how to earn money with beej gram yojana

किसान जब बीज बीज तैयार कर लेते हैं तब उस वापस कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा खरीद लिया जाता है। इसके अलावा राज्य बीज निगम भी सीधे किसानों से बीज खरीद लेती है। इसके बदले में किसानों को अच्छी रकम मिलती है। बीज ग्राम के तहत बीज उत्पादन करने वाले किसान गंदूरा उरांव ने बताया कि यह एक तरह से कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग की तरह होती है। इसमें पहले से ही तय होता है कि कृषि विज्ञान केंद्र किसान से कितनी बीज की खरीदारी करेगी। रांची में बीज ग्राम से कृषि विज्ञान केंद्र से किसान 42 रुपए किलो की दर से फाउंडेशन सीड खरीदते हैं। जिसे लगाकर किसान बीज पैदा करते हैं इसे किसान फिर 22 रुपए प्रति किलो की दर से बेचते हैं। इससे उन्हें काफी मुनाफा होता है।

आज की इस पोस्ट में हमने बताया की beej gram yojana से लाखों कैसे earn money कर सकते है। beej gram yojana के बारे में विस्तृत जानकारी चाहिए तो आप कमेंट में हमे बताये।

ग्रुप से जुड़े

Telegram mandi bhav groupJoin Now
Whatsapp Group Join Now

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

close