Homeकिसान न्यूज़digital kcc : 1.5 लाख तक का किसान क्रेडिट कार्ड अब 1...

digital kcc : 1.5 लाख तक का किसान क्रेडिट कार्ड अब 1 घंटे में मिलेगा

किसान को kisan credit card बनवाने में काफी समस्या का सामना करना पड़ता है। किसानों को बैंक में हो रही समस्या को देखते हुए नया पॉयलेट प्रोजेक्ट शुरू किया गया है जिस से किसान को 1 घंटे में लोन प्राप्त हो जायगा और उसे किसान क्रेडिट कार्ड भी आसानी से प्राप्त हो जायगा। राज्य में अब किसानों को 1.60 लाख रुपए तक के किसान क्रेडिट कार्ड महज 1 घंटे में मिल जाएंगे। उन्हें न तो बैंक जाना होगा। न ही पटवारी के पास आवेदन लेकर जाना होगा। वे अपने फोन के जरिए ऑनलाइन या फिर एमपी ऑनलाइन के कियोस्क पर जाकर यह किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकेंगे।

यह संभव होगा भारतीय रिजर्व बैंक के आरबीआई इनोवेशन हब (आरबीआईएच) द्वारा विकसित प्लेटफॉर्म के जरिए बैंक और मप्र सरकार के लैंड रिकॉर्ड दोनों के सर्वर इस प्लेटफॉर्म पर होंगे। किसान को बैंक और लैंड रिकार्ड में जमीन को बंधक बनाने के लिए अलग-अलग आवेदन करने की जरूरत ही नहीं रहेगी। आरबीआई ने यूनियन बैंक के साथ मिलकर देश में सबसे पहले हरदा जिले में डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड देना शुरू किया।

किसान शेर सिंह मौर्या को यह पहला डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड kcc दिया गया। मौर्या देश के पहले किसान बन गए जिन्हें यह डिजिटल किसान क्रेडिट कार्ड सौंपा गया। यह आरबीआई का पायलट प्रोजेक्ट है। यूनियन बैंक की एमडी और सीईओ ए. मणिमेखले ने बताया कि आरबीआईएच का प्लेटफॉर्म खेती किसानी में व्यस्त किसान का काफी समय बचाएगा। डॉक्यूमेंटेशन और ईकेवाईसी की प्रक्रिया भी तेज गति से होगी।

34 लाख किसान kcc सुविधा से वंचित

मप्र में करीब 1 करोड़ किसान हैं जो करीब 1.52 करोड़ हेक्टेयर के रकबे पर खेती करते हैं। अब तक 65.84 लाख किसानों के पास ही किसान क्रेडिट कार्ड हैं। शेष 34.16 लाख किसानों की आबादी बैंक के आसान कर्ज से वंचित है। सालाना क्रेडिट प्लान के तहत जो कृषि कर्ज देने का लक्ष्य तय किया जाता है उसका 50% ही हासिल हो पाता है। बैंकों के अनुसार हरदा पूरे देश के लिए एक मिसाल बनेगा।

यह भी पढ़ें – wheat variety : गेहूं की नयी किस्म WH 1270 की ज्यादा मांग, जानिए खासियत

ऐसे करें किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन

किसान घर बैठे ऑनलाइन या फिर एमपी ऑनलाइन के कियोस्क में जाकर बैंक में किसान क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन कर सकेगा। बैंक बाकी औपचारिकताएं पूरी करके तुरंत उसे 1.60 लाख रुपए तक के क्रेडिट कार्ड जारी कर देगा। यह सारे लोन आरबीआई इनोवेशन हब (आरबीआईएच) द्वारा विकसित प्लेटफॉर्म पर दिए जाने हैं। यह एकल प्लेटफॉर्म ग्राहक की ई-केवाईसी और दूसरी औपचारिकताओं को पूरी करने के साथ एमपीएलआर से भी जुड़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

close