Homeकिसान न्यूज़इन 18 जिले के किसानों को मिलेगी 1128 करोड़ की राहत राशि

इन 18 जिले के किसानों को मिलेगी 1128 करोड़ की राहत राशि

kisan news. खरीफ 2020-21 में कीटव्याधि से फसलों को हुए नुकसान की भरपाई के लिए राज्य सरकार ने 1128 करोड़ 88 लाख रुपये राहत राशि जारी कर दी है। यह राशि 18 जिलों के किसानों को बांटी जाएगी। इस संबंध में राजस्व विभाग ने निर्देश जारी कर दिए हैं। प्रदेश के 18 जिलों में खरीफ फसल को कीटों से भारी नुकसान हुआ था।

तब सर्वे में सामने आए आंकड़ों के तहत सरकार ने राहत राशि मंजूर की थी जिसकी पहली किस्त किसानों को दी जा चुकी है। दूसरी किस्त (33 फीसद राशि) अब जारी की है। यह राशि कोषालय सीधे उन किसानों के बैंकखाते में भेजेंगे, जिनकी फसल को कीटों से नुकसान होने की पुष्टि सर्वे में हुई है।

इन जिलों को मिलेगी राहत राशि

राशि वैतूल, भोपाल, दमोह, देवास, धार, गुना, हरदा, होशंगाबाद, इंदौर, खरगोन, नरसिंहपुर, रायसेन, राजगढ़, सागर, सीहोर, शाजापुर, विदिशा,आलीराजपुर और आगर-मालवा के किसानों को बांटी जाएगी। किसान अब 30 अप्रैल तक जमा कर सकेंगे फसल ऋण, सरकार ने बढ़ाई अवधि: मौसम की बेरुखी से परेशान किसानों को सरकार ने बड़ी राहत दी है। सरकार ने फसल ऋण वसूली एक माह आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। यानी अवकिसान 30 अप्रैल 2021 तक कर्ज की राशि जमा कर सकेंगे।

अभी सरकार वित्तीय वर्ष की समाप्ति 31 मार्च तक कर्जवसूली कर रही थी। बैंकों ने किसानों को 28 मार्च तक हर हाल में कर्ज की राशिचुकाने केनोटिस भेज दिए थे। किसानों को मिलेगी राहत कृषि मंत्री कमल पटेल ने बताया कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 31 मार्च को होने वाली फसल ऋण वसूली की अवधि एक माह आगे बढ़ाने पर सहमति दे दी है।

मंत्री ने बताया कि वे मुख्यमंत्री से मिले थे और फसल ऋण वसूली की अवधि आगे बढ़ाने का अनुरोध किया था। मुख्यमंत्री को बताया कि वर्तमान में फसल खरीदी जा रही है और किसानों को उपज की राशिअप्रैल- मई माह में मिलेगी। कर्ज चुकाने के लिए एक माह अतिरिक्त मिलने से किसानों की मुश्किल कम होगी और वे फसल ऋण की राशि को जमा कर सकेंगे। 

गृहमंत्री ने लिया ओलों से हुए नुकसान का जायजा

गृहमंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने शनिवार को जिले की बड़ौनी तहसील के विभिन्न ग्रामों में ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का जायजा खेतों पर जाकर लिया। उन्होंने प्रशासनिक अधिकारियों को नुकसान का सर्वे जल्द कराने के निर्देश भी दिए। ग्राम डगराकुआं में गृहमंत्री खेतों पर पहुंचे। वहां गेंहूं, चना, मटर की फसल को ओला-बारिश से हुए नुकसान को देख किसानों से चर्चा भी की।

गृहमंत्री ने किसान रोशन खान एवं जाहिर खान के खेतों पर प्रभावित मटर की कटी हुई एवं खड़ी गेंहू-चने की फसल की हालत देखकर कहा नुकसान के आकलन के लिए जिला प्रशासनजल्द ही सर्वे कराएगा। फिर नियमानुसारशासन से सहायता राशि उपलब्ध कराई जाएगी। इस दौरान अपर कलेक्टर एके चांदिल, एसडीएम अशोक सिंह चौहान सहित जनप्रतिनिधिगण उपस्थित रहे।

इसे भी पढ़ें धान के किसानों को अगले सीजन होगा अच्छा मुनाफा, जानिए क्या है वजह

जिला प्रशासन ने सर्वे दलों का गठन कर दिया है। ये दल प्रभवित फसलों का सर्वे कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। मुरैना के पहाड़गढ़ क्षेत्र में शुक्रवार शाम तेज बारिश के साथ हल्की ओलावृष्टि भी हई। इससे किसानों के लिए परेशानी खड़ी हो गई। शनिवार को जौरा एसडीएम नीरज शर्मा पहाड़गढ़ पहुंचेव ओलों से फसलों को नुकसान का जायजा भी लिया। इस दौरान एसडीएम ने धूरकूड़ा, कहारपुरा, पहाड़गढ़, खड़ियापुरा में ओलावृष्टि से होने वाले नुकसान को देखा।

Most Popular

close