Home Agri Business custom hiring center yojana ख़रीदे 25 लाख तक के कृषि यंत्र, सरकार...

custom hiring center yojana ख़रीदे 25 लाख तक के कृषि यंत्र, सरकार देगी 10 लाख सब्सिडी

0
custom hiring center yojana

कृषि कार्य को सरल बनाने के लिए सरकार द्वारा custom hiring center 2022 योजना शुरू की गयी है। जिसमे किसान या अन्य व्यक्ति कृषि यंत्र खरीदकर छोटे किसानों को कृषि यंत्र किराये पर दे सकते है। इस पोस्ट में custom hiring center in hindi में बताया है। custom hiring registration कैसे होगा एवं कस्टम हायरिंग योजना के बारे में पूरी जानकारी बताई हई है।

custom hiring center योजना क्या है

custom hiring center योजना किसानों के लिए बनाई गयी है। जिसमें कोई भी व्यक्ति या किसान center की शुरुआत कर सकते है। custom hiring center खोलने के लिए सबसे पहले registration करना होगा। custom hiring center खोलने के लिए अगर आपका चयन होता है तो आपको सभी प्रमुख कृषि यंत्र खरीदने होंगे जिसमें goverment द्वारा कृषि की कीमत का 40% अधिकतम 10 लाख तक अनुदान मिलेगा।

इन कृषि यंत्र को custom hiring center संचालक द्वारा गांव के किसानो को किराय पर देना होगा जिसका किराया संचालक को farm app के माध्यम से मिल सकेगा। छोटे किसान कृषि यंत्र की बुकिंग app के माध्यम से कर सकते है। संचालक को अपने कार्य की संपूर्ण जानकारी farm app पर अपलोड करनी होगी।

custom hiring center में अनिवार्य कृषि यंत्र

  • एक ट्रैक्टर
  • एक प्लाऊ या पावर हैरो
  • एक रोटावेटर
  • कल्टीवेटर
  • सीड कम fertilizer drill
  • ट्रैक्टर चलित थ्रेशर

Custom Hiring center registration

Custom Hiring center registration के लिए https:// chc.mpdage. org के माध्यम से आवेदन आमंत्रित किये जायगे। किसान 1 सितंबर 2022 से 12 सितंबर 2022 के दौरान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। आवेदन के बाद 14 सितंबर 2022 को दोपहर 12 बजे कम्प्यूटरायज़्ड लाटरी के माध्यम से किसानों का चयन कर सूची जारी की जाएगी। लाटरी सूची को किसान www.chc.mpdage.org पोर्टल पर शाम 4 बजे देख सकते हैं।

जिसके बाद 15-16 सितंबर 2022 तक प्रातः 10:30 से शाम 5:30 तक ज़िलेवार आवेदकों के अभिलेखों का सत्यापन एवं बैंक ड्राफ़्ट जमा किए जाने का कार्य किया जायेगा। प्रत्येक आवेदक को आवेदन हेतु धरोहर राशि 10000/- रुपए का बैंक ड्राफ़्ट के रूप में अपने संभाग के सहायक कृषि यंत्री के नाम से बनवाना होगा।

Custom Hiring center registration के लिए document

  • आवेदक का फोटो,
  • आवेदक का पहचान पत्र,
  • आवेदक का आधार कार्ड,
  • सक्षम अधिकारी द्वारा जारी जन्म प्रमाण-पत्र अथवा हाई स्कूल अंकसूची,
  • जाति प्रमाण पत्र (केवल अनुसूचित जाति एवं जनजाति के आवेदकों हेतु),
  • निवास प्रमाण पत्र  (मतदाता परिचय पत्र अथवा आधार कार्ड) अथवा ऋण पुस्तिका सत्यापन हेतु प्रस्तुत किए जाने होंगे।

Custom Hiring center registration की अन्य जानकारी

योजनांतर्गत एक ग्राम तथा एक परिवार में केवल एक ही Custom Hiring center दिये जाने का प्रावधान है अतः जिन ग्रामों में पूर्व में केन्द्र स्थापित हो चुके है वहां के लिये आवेदन प्रस्तुत न किये जाये। ग्रामों के संबंध में अंतिम निर्णय संबंधित कृषि यंत्री / कार्यपालन यंत्री कार्यालय द्वारा अभिलेखों के सत्यापन के समय लिया जायेगा। जिले हेतु उपयुक्त पाये गये ऑनलाईन आवेदनों की श्रेणीवार (सामान्य, अनु. जाति तथा अनु. जनजाति ) प्राथमिकता सूचियों का निर्धारण कम्प्यूटरीकृत लॉटरी के माध्यम से किया जायेगा। इस प्रकार निर्धारित प्राथमिकता सूचियों अनुसार ही आवेदकों को जिले के लक्ष्य अनुसार केन्द्र स्थापित करने के विचार क्षेत्र में लिया जायेगा ।

सत्यापन के दौरान आवेदक को ऑनलाईन आवेदन के समय अपलोड किये गये मूल बैंक ड्राफ्ट को कार्यालय में जमा कराया जाना होगा। अभिलेखों के सत्यापन हेतु जिलेवार निर्धारित दिनांकों की जानकारी परिशिष्ट-3 पर है। अभिलेख परीक्षण न कराने अथवा मूल बैंक ड्रॉफ्ट जमा न कराये जाने की स्थिति में आवेदन निरस्त कर दिया जावेगा। योजना के अंतर्गत उपयुक्त पाये गये आवेदकों की धरोहर राशि केन्द्र स्थापित होने पर भौतिक सत्यापन उपरांत लौटाई जा सकेगी, किंतु यदि आवेदक केन्द्र स्थापित करने में रूचि नहीं लेता है अथवा केन्द्र स्थापित कराने में असफल होता है, तो धरोहर राशि शासन द्वारा राजसात कर ली जायेगी

Custom Hiring center में सब्सिडी

योजनांतर्गत हितग्राही को स्वयं के गांव में कृषि कार्यों हेतु Custom Hiring center स्थापित करने हेतु अनुदान दिया जाना है। कस्टम हायरिंग केन्द्र के माध्यम से हितग्राही द्वारा कृषकों को कृषि कार्यों हेतु किराये पर मशीनें एवं यंत्र उपलब्ध कराकर सेवायें दी जाना होगी।

प्रत्येक Custom Hiring center हेतु आवश्यक ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्रों से संबंधित कृषि मशीनों के कय की लागत पर आवेदकों (सामान्य, अ.जा. एवं अ.ज.जा.) को 40 प्रतिशत अधिकतम रू. 10 लाख तक का “क्रेडिट लिंक्ड बैक एण्डेड (Credit Linked Back Ended)” अनुदान दिया जायेगा।

अनुदान की गणना सब मिशन ऑन एग्रीकल्चर मेकेनाइजेशन योजना में प्रत्येक यंत्र हेतु दिये गये प्रावधान अनुसार अधिकतम सीमा तक की जावेगी। प्रत्येक जिले में परिशिष्ट-1 में दर्शायी सूची अनुसार कस्टम हायरिंग केन्द्र स्थापित किये जाने का लक्ष्य है ।

कुल 364 Custom Hiring center (सामान्य- 242, अनुसूचित जनजाति 70 तथा अनुसूचित जाति – 52 के लक्ष्य) हेतु आवेदन आमंत्रित किये जा रहे हैं। लक्ष्यों को कम करने अथवा बढ़ाने के अधिकार संचालक कृषि अभियांत्रिकी को होंगे। कस्टम हायरिंग केन्द्र न्यूनतम रू. 10 लाख तथा अधिकतम रू. 25 लाख तक की लागत का स्थापित किया जा सकेगा। बैंक ऋण के आधार पर केन्द्र स्थापित किया जाने पर ही अनुदान की पात्रता होगी।

यह भी पढ़ें

1गेहूं की 10 best वैरायटी
2बैंक से कम समय में kisan credit card (KCC)कैसे बनवाये
3beej gram yojana : किसान अपने गांव में बीज बैंक बनाकर कमाएं लाखों रु. जानिए कैसे
4अधिक उत्पादन वाली मूंग की वैरायटी
5सोयाबीन की अधिक उपज देने वाली कीट प्रतिरोधी नयी वैरायटी
6PM Kisan FPO Yojana: किसानों को सरकार देगी 15 लाख रुपये की मदद, जानिए क्या है योजना

Custom Hiring center 2022 में जिलावार लक्ष्य

custom hiring center list

इस पोस्ट में custom hirirng center योजना की जानकारी दी। किसी भी प्रकार का सवाल आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। रोजाना किसान सम्बन्धी जानकारी के लिए हमारे ग्रुप से जुड़ सकते है।

ग्रुप से जुड़ें –

Telegram mandi bhav groupJoin Now
Whatsapp Group Join Now

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

close